डेढ़ साल बाद भी बलात्कारी नही आये पुलिस गिरफ्त में, कबतक रहेंगे कानून के हाथ खाल

कौशांबी। करारी थाना क्षेत्र के रसूलपुर सोनी गांव की एक बालिका के साथ लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व गांव के ही एक युवक ने उसे घसीट कर उसके साथ रेप किया था। लोगो ने बताया कि पहले तो पुलिस मामले को टरकाती रही लेकिन बाद में करारी थाना पुलिस ने अदालत के आदेश पर मुकदमा दर्ज कर लिया। लेकिन मुकदमा दर्ज होने के डेढ़ वर्ष बीत जाने पर भी आरोपी की गिरफ्तारी पुलिस नहीं कर सकी जिस पर पीड़िता के परिजनों ने उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। उच्च न्यायालय ने 22 अक्टूबर 2019 को आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी करने का निर्देश दिया है। इसके बाद भी 6 महीने से अधिक बीत गए लेकिन करारी पुलिस रेप के आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफल नही हो सकी। कुछ लोगो ने बताया कि रेप के आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं लेकिन इसकी पुष्टि हम नही कर रहे हों। इसमे कितनी सच्चाई है यह तो जिन्होंने देखा है वे या फिर पुलिस जानती होगी। हालांकि पुलिस ने रेप पीड़िता का 161 और 164 का बयान भी पूर्व में करा चुकी है।
संदिग्घ रही है पुलिस की भूमिका
जानकारी के मुताबिक करारी थाना क्षेत्र के रसूलपुर सोनी गांव के रामलाल की बेटी उर्मिला देवी (सभी परिवर्तित नाम) को गांव का एक युवक खेत से वापस आते समय घसीट ले गया था और उसके साथ जोर जबरदस्ती कर रेप किया। परिजनों को जानकारी मिलने पर उन्होंने करारी पुलिस से मदद मांगी लेकिन रेप के घटना को करारी पुलिस पचाती रही और बार-बार आला अधिकारियों को गुमराह करती रही। जिस पर पीड़ित के परिजनों ने अदालत का दरवाजा खटखटाया और अदालत के निर्देश पर करारी थाने में पीड़िता का मुकदमा दर्ज हुआ लेकिन धीरे-धीरे डेढ़ वर्ष बीत चुके हैं और अभी तक रेप के आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी है जबकि इस बीच पुलिस महकमे में भी फेरबदल हुए हैं लेकिन आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो पा रही है। जबकि पीड़ित परिवार का कहना है कि आरोपियों द्वारा बार-बार पीड़िता और उसके पिता को मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाया जा रहा है और आरोपी का कहना है कि यदि मुकदमा वापस नहीं हुआ तो तुम बाप बेटी की हत्या कर कहानी खत्म कर देंगे जिससे पीड़ित परिवार भयाक्रांत है
राहुल द्विवेदी ब्यूरो चीफ
टुडे इंडिया लाइव न्यूज़ कौशाम्बी