बुलंदशहर। कोरोना संकट से देश को उबारने के लिए इंटरनेशनल नेचुरोपैथी आर्गेनाईजेशन द्वारा 18 अप्रेल से 3 मई तक प्राकृतिक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विषय पर निरन्तर चलाई गई फेसबुक लाइव वार्ता को मिले भारी जन समर्थन पर भारी हर्ष व्यक्त करते हुए आई एन ओ के उत्तर प्रदेश प्रभारी डॉ आर के राणा ने कहा कि फेसबुक लाइव वार्ता में लाखों लोगों से मिलने वाले सुझावों के आधार पर हमारे माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ अनन्त बिरादर जी ने पदाधिकारियों से संगठन हित में लिए परामर्श के आधार पर ई – मेंबरशिप कैंपेन चलाने का फैसला लिया है। डॉ आर के राणा ने बताया कि आई एन ओ द्वारा आज से शुरू की गई ई – मेंबरशिप कैंपेन में आई एन ओ की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन सदस्यता ली जा सकती है। उन्होंने बताया कि आई एन ओ की इस विशेष ई-सदस्यता अभियान के तहत मात्र सौ रुपए में सदस्यता प्राप्त की जा सकती है,जबकि एक वर्ष की संगठन की सदस्यता शुल्क तीन सौ रुपए है। आज से अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 21 जून तक शुरू किए गए ई मेंबरशिप कैंपेन के तहत बनने वाले सदस्यों को वॉट्सशप तथा ईमेल के माधयम से ऑनलाइन सदस्यता प्राप्त होगी। सदस्य को परिचय पत्र तथा नेचर क्योर वर्ल्ड पत्रिका की सॉफ्ट कॉपी के अतिरिक्त समय समय जारी की गई संगठन व सरकार से प्राप्त संबंधी सूचनाओं को उपलब्ध कराने का निर्णय लिया गया है। डॉ आर के राणा ने आज से शुरू की गई ई मेंबरशिप कैंपेन के निर्णय के लिए आई एन ओ के केंद्रीय नेतृत्व का आभार व्यक्त करते हुए इस निर्णय को संगठन हित में स्वागत योग्य कदम बताया है। उन्होंने कहा कि प्राकृतिक चिकित्सा एवं योग को देश के अंतिम छोर तक तथा जन जन तक पहुंचाने के उद्देश्य से सूर्या फाउंडेशन व आई एन ओ के चैयरमैन एवं पदम श्री सम्मान से अलंकृत श्री जय प्रकाश जी ने आज से 18 वर्ष पूर्व आई एन ओ का गठन किया था। डॉ आर के राणा ने कहा कि किसी भी संगठन की मजबूती का आधार उसकी संगठन शक्ति होती है।उन्होंने कहा कि आई एन ओ द्वारा किए जा रहे तमाम प्रयासों के बावजूद संगठन हित में ई- सदस्यता अभियान चलाये जाने की पहल सराहनीय है। आई एन ओ के माध्यम से प्राकृतिक चिकित्सा एवं योग को जन जन तक पहुंचाने का लक्ष्य प्राप्त तभी साकार हो सकेगा।