संवाददाता (अविनाश पटेल)

 

उन्नाव।जनपद की तहसील सफीपुर के अंतर्गत f 84 ब्लॉक के ग्राम सभा लावनी कोटेदार कुन्नू उर्फ़ विनीत कुमार जो कि गरीब जनता के साथ कर रहा घटतौली से नहीं आ रहे बाज व जनता के साथ दबंगई से पेश आते है कोटेदार , यहां ग्रामीणों के पास कार्ड नहीं हैं जिससे उनको पता चल सके कि उनके कितने यूनिट हैं या कितना राशन मिलना चाहिए ऐसे किसी भी प्रकार की जानकारी उनके पास नहीं है, कोटेदार अपने पास ही लिस्ट रख कर कर रहा घटतौली, जनता को 30 किलो का 28 किलो 25 किलो या 20 किलो का 15 किलो और 20 किलो का 12 किलो का राशन देता है, जब जनता ने मीडिया के सामने अपनी आवाज उठानी चाही तो वह दुकान का इस्तीफा देने का नाटक करने लगा जब उसका इससे भी मन नहीं भरा तब वह खुद पत्रकारों पर पैसे मांगने का आरोप लगाने लगा कोटेदार या उसके भाई और पिता एक दबंग किस्म के व्यक्ति हैं जिससे कि जनता परेशान है जब जनता ने अपना मुंह खोलना चाहा तो जनता को धमकाने लगा , इससे भी मन नहीं भरा तब वह खुद पत्रकारों पर पैसे मांगने का आरोप लगाने लगा कोटेदार या उसके भाई और पिता एक दबंग किस्म के व्यक्ति हैं जिससे कि जनता परेशान है जब जनता ने अपना मुंह खोलना च आखिर ऐसे कोटेदारों के खिलाफ कब होगी कार्रवाई अधिकारी को देखना चाहिए यहां की जनता त्राहि-त्राहि कर रही है पर अधिकारी कोई सुनने नहीं आता जब जनता को महामारी के चलते पेट के लिए पूरा राशन भी नहीं मिल सकता तो ऐसे कोटेदारों का कोटा तुरंत निरस्त करना चाहिए वहां जनता के पास कोई प्रूफ नहीं है कि उनका राशन कार्ड है या नहीं है जो कुछ है कोटेदार अपने ही पास रखता है नहीं तो उनको बताता है कि उनके कितने यूनिट है, कितना उनको दे रहा है और ना ही उन लोगों को अपने कार्ड का पता है की कितने यूनिट है और कितना राशन मिलना चाहिए इसकी जनता को जानकारी नहीं है जबकि कोटेदार को गोदाम से पूरा राशन तोल के दिया जा रहा है फिर भी यह गरीब लोगों के पेट पर पर डाका डाले बैठे हैं आखिर कब होगी ऐसे दबंग कोटेदार के खिलाफ कार्रवाई या एक बड़ा सवाल।