बुलन्दशहर। इंटरनेशनल नेचुरोपैथी ऑर्गनाइजेशन प्रदेश प्रभारी डॉ रविंद्र कुमार राणा ने अपने आवास से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के पिता श्री आनंद सिंह बिष्ट के आकस्मिक निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनके निधन से संपूर्ण भारतवर्ष के लोगों में शोक की लहर दौड़ पड़ी है। डॉ रविन्द्र राणा ने कहा कि श्री आनंद सिंह बिष्ट जी एक सच्चे, ईमानदार आदर्श व्यक्तित्व थे।स्वर्गीय श्री बिष्ट जी का संपूर्ण जीवन सादा जीवन, उच्च -विचार पर केंद्रित था। डॉ रविन्द्र राणा ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने बाल्यकाल में ही संन्यास ले लिया था और तब से ही वे अपने परिवार जनों से अलग सन्यासी बन गोरखपुर की गोरखधाम पीठ में रहने लगे थे। वही सन्यासी बालक आगे चलकर महंत योगी आदित्यनाथ के नाम से जाने गए।उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री महंत श्री योगी आदित्यनाथ जी स्वर्गीय श्री आनंद सिंह बिष्ट के पुत्र हैं। हम सभी इंटरनेशनल नेचुरोपैथी ऑर्गनाइजेशन के लाखों कार्यकर्ता स्वर्गीय श्री आनंद सिंह बिस्ट जी को अपने अपने घर से अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं, तथा परमपिता परमात्मा से प्रार्थना करते हैं कि उनके शोक संतप्त परिवार को इस दुख की घड़ी में धैर्य, शक्ति एवं साहस प्रदान करें। ऐसी हमारी प्रभु से मंगल कामना है।