संवाददाता/आकाश चौधरी

कानपुर/कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए दुनियाभर में लॉकडाउन किया गया है। कोरोना के डर और लॉकडाउन ने लोगों का असहज रूप से प्रभावित किया है।इसके कारण लोगों में चिंता,भय और बैचेनी जैसी समस्याएं देखी गई हैं।इस समय में योग करना सभी के लिए फायदेमंद है।उत्तर प्रदेश योग उपाध्यक्ष एवं कानपुर योगा एसोसिएशन के संरक्षक पीयूष अग्रवाल ने बताया की कोरोना वायरस संक्रमण के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के दूसरे चरण के कारण घरों में रह रहे लोगों के लिए योगाभ्यास लाभकारी साबित हो होंगे है क्योंकि यह रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करता है।

*योग करने से तनाव कम होता है*
उत्तर प्रदेश योग उपाध्यक्ष एवं कानपुर योग एसोसिएशन के संरक्षक पीयूष अग्रवाल ने बताया की लोग कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण अपने घरों में रहने के लिए मजबूर हैं।ऐेसी स्थिति में लोग घबराये नहीं वह सुबह उठकर नियमित योग और व्यायाम उत्तान पदमासन,भामरी हेलो अनुलोम विलोम कपालभाति प्राणायाम करेे इससे तनाव कम होगा और कोरोना वायरस से लड़ने के लिए लाभ दायक होगा।

*इन बातों का रखें ध्यान- योग उपाध्यक्ष*

योग उपाध्यक्ष पीयूष अग्रवाल ने बताया की कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए हाथ को करीब 20 सेकेंड तक धोएं।हाथों से बैक्टीरिया साफ करने के लिए सेनेटाइजर का इस्तेमाल किया जा सकता है।इसके लिए अल्कोहल आधारित हैंड रब का भी इस्तेमाल किया जा सकता है।भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचिए।जिन लोगों को खांसी या जुकाम हो,उनके संपर्क में ना आएं।अपने नाक-मुंह और आंखों को बार-बार टच ना करें।अगर आपको खांसी, जुकाम या बुखार हो तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं।खांसते और छींकते समय नाक-मुंह पर रूमाल या टिशू पेपर रख लें।

*आरोग्य सेतु एप करे डाउनलोड*

उत्तर प्रदेश योग उपाध्यक्ष एवं कानपुर योग एसोशिएशन के संरक्षक ने बताया की कोरोना संकट की रोकथाम एवं कोरोना मरीजों के बारे में जानकारी व लोगों को सतर्क करने के लिए प्रधानमंत्री द्वारा लांच किए गए बहुचर्चित आरोग्य सेतु एप्प को सभी से अपील किया की एप्प को अपने आस-पास के युवा व मित्रों को एप्स को डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करे।और सोशल को डिस्टेंस का पालन करें।