चित्रकूट मऊ बरगढ़ से खास खबर

धरती का सीना चीर कर गिट्टी पत्थर का चल रहा कारोबार
गरीब मजदूर घर छोड़कर पलायन करने पर हुए मजबूर
आसपास मे रहने वाले घरों के खेलने वाले छोटे-छोटे बच्चों की जिंदगी लगी दांव पर किसी भी समय हो सकता है बड़ा हादसा
40 से 50 फीट तक धरती का सीना चीर कर किया है बड़ा बम ब्लास्ट जिससे आसमान में उड़ते हैं एक एक कुंटल के बड़े-बड़े पत्थर

स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि हमारा परिवार व हमारे छोटे छोटे बच्चों की जिंदगी चौबीसों घंटों रहती है हथेली पर
ब्लास्ट होने पर एक एक कुंटल के पत्थर आसमान से उड़कर गिरते हैं हमारे घरों पर किसी दिन ऐसा होगा कि वह पत्थर हमारे खेलने वाले बच्चों के ऊपर गिर कर ले सकता है बच्चों की जान
इतना ही नहीं खदान से उड़ने वाला प्रदूषण टीवी जैसी बड़ी बीमारी को दे रहा दावत
आखिर हादसे का कौन होगा जिम्मेदार
खनन के ठेकेदार या चित्रकूट जिला खनिज प्रशासन
खनन बरकरार किसकी जीत किसकी हार
किसान मजदूर सभा पाठा क्षेत्र के लोगों का कहना है कि बड़े कारोबारियों पर नहीं होती कार्यवाही
जबकि क्षेत्र के गरीब किसानों और मजदूरों को डर दिखाकर उन्हें नोटिस थमा दी जाती है
इस विश्लेषण से ये बातें तो
साफ हो जाती है कि अभी तक हारा है तो केवल किसान। हारा है तो केवल गरीब। हारा है तो केवल मजदूर । हारा है तो केवल असहाय।
जीता प्रशासन भी नही जीतते आये हैं तो सिर्फ विभाग में बैठे बीच के अधिकारी और बड़े कारोबारी।