मध्यप्रदेश के खण्डवा जिले के पंधाना के विधायक किसानों की शिकायत पर पहुचे कृषि उपज मंडी किया औचक निरीक्षण।

मंडी अधिकारियो को किसानों की समस्याओं को दूर करने के दिये सख्त निर्देश।

पंधाना/ वर्तमान विधायक राम दांगोड़े द्वारा उपज मंडी पंधाना का औचक निरीक्षण किया।मंडी व्यपरियो का माल मंडी प्रांगण में रखा होने से उन्होंने मंडी अधिकारियों को फटकार लगाई और मंडी टीनशेड में रखे अपने माल को तत्काल हटाने के आदेश दिए। मोके पर पहुँची अनुविभागीय अधिकारी अनुभा जैन ने मंडी अधिकारियों एवं व्यपारियो को सख्त लहजे में चेतावनी देते हुए अपना माल मंडी प्रांगण से हटाने को निर्देशित किया।भारतीय किसान संघ के भूपेंद्र कुशवाह ने विधायक राम दांगोड़े को मंडी में किसानों को हो रही परेशानियों से अवगत कराया जिसमे मंडी में व्यपारियो द्वारा अपना खरीदा अनाज मंडी में ही कई दिनों तक रखे रहना, मंडी में मॉइस्चर मशीन का ना होना,मंडी व्यापरियो का बोली लगाने नही पहुचना जिसके चलते किसानों को अपनी उपज का सही दाम नही मिल पाता है।

यह है मामला

पंधाना उपज मंडी में इस वक्त मक्का की बंपर आवक आ रही है।पंधाना क्षेत्र के आसपास के कई किसान अपना अनाज बेचने के लिए मंडी में ला रहे है।किंतु मंडी प्रांगण से लेकर टिन शेड तक मे पंधाना के व्यपारीयो ने अपना माल जमा रखा है जिसके चलते मंडी में किसानों को अपना अनाज बेचने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।व्यपरियो द्वारा किसानों से उनका अनाज खरीद कर अपने गोदामो मे ना रखकर मंडी प्रांगण से लेकर वहाँ बने टिन शेट पर अपना अनाज बोरियो में भरकर रख रहे है।जगह को लेकर आये दिन व्यपारी एवम किसानों के बीच विवाद की स्थितिया निर्मित हो रही है।वही मंडी समिति भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है।अनाज खरीदी के बाद उक्त व्यपरियो को अपना अनाज उपज मंडी से उठाकर अपने गोदामो में ले जाना चाहिये परन्तु व्यपरियो की हठधर्मिता के चलते एवम रैक का बहाना बना कर कई कई दिनों तक अपना माल मंडी प्रांगण में ही पड़े रहने दे रहे है।जिसके चलते उपज मंडी पंधाना में अव्यवस्था फेल रही है।मौसम के साफ होने के बाद आगे भी अनाज की बम्पर आवक रहेगी और व्यपारियो के द्वारा अपना माल नही उठाने के चलते मंडी पंधाना की स्थिति ऐसी बन रही है कि वहाँ पर पैर रखने की जगह तक नही बची है।आखिर किसान अपना अनाज रखे तो रखे कहा।वही दूसरी ओर मंडी व्यपारी किसान के अनाज में नमी जांचने के लिए मॉइस्चर मशीन का प्रयोग ना करते हुए अनाज को दांतों से तोड़कर उसकी नमी जाँचते है जिसके चलते किसान को उसके उपज का सही मूल्य नही मिल रहा है।मंडी में 53 लाइसेंस धारी व्यापरि है परंतु बोली लगाने केवल दो से तीन व्यपारी ही पहुँच रहे है। मंडी में हो रही ऐसी कई समस्यों को स्वयं विधायक राम दांगोड़े एवम एसडीएम जैन ने देखी।

इनका कहना
व्यापारियों को माल मंडी से खाली करवाया जाएगा ।मंडी से बाहर खरीदी करने वाले व्यापारियों पर जल्द कार्रवाई होगी ।मंडी में मॉइस्चर मशीन का उपयोग अनिवार्य करवाया जाएगा ।
अनुविभागीय अधिकारी पंधाना श्रीमती अनुभा जैन

2 मंडी में समर्थन मूल्य से कम कीमत में किसानों का माल खरीदा जा रहा है हम शासन से मांग करेंगे कि किसानों को अपने माल का उचित दाम मिले और यहां पर हो रही अव्यवस्थाओं को जल्दी दुरुस्त करने को कहा गया है ।
विधायक पंधाना –राम दांगोड़े

3 हमने मंडी में हो रहे अवस्थाओं को लेकर अधिकारियों को अवगत करवाया है और किसानों को हो रही परेशानियों का हमारे उच्चाधिकारियों तक बताया जाएगा।
भारतीय किसान संघ तहसील अध्यक्ष -भूपेंद्र कुशवाह

4 यहां पर मैं अपनी मक्का की फसल लेकर आया हूं जोकि व्यापारी द्वारा बहुत ही कम दामों में नीलामी की गई जिसके चलते मैं अपना माल वापस ले जा रहा हूं 1734 का समर्थन मूल्य होने के बावजूद भी मुझे केवल 13 सो रुपिये मक्का व्यापारी द्वारा बोली लगाई जा रहा है जिसके चलते में अपना माल वापस ले जा रहे