नयी दिल्ली: हरियाणा के फतेहाबाद की वायु गुणवत्ता देश में सबसे खराब रही. वहीं उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और बिहार की राजधानी पटना की स्थिति दिल्ली से भी बदतर रही. यह खुलासा शनिवार शाम को समाप्त गत 24 घंटों के आधार पर तैयार आधिकारिक आंकड़ों से हुआ है. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) की ओर से शनिवार शाम चार बजे गत 24 घंटे के आधार पर जारी बुलेटिन के मुताबिक देश के 13 ऐसे शहर हैं जहां की औसत वायु गुणवत्ता 400 के पार है जो ‘ गंभीर’ श्रेणी में आता है. इन शहरों में सबसे अधिक सात शहर उत्तर प्रदेश के, पांच हरियाणा के और एक बिहार का है.

 

दिल्ली का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 399 रहा जबकि फतेहाबाद में यह 493 दर्ज किया गया. पटना और लखनऊ में भी औसत वायु गुणवत्ता क्रमश: 428 और 422 दर्ज की गयी. दिल्ली और उसके आसपास के शहरों में शुकवार को इस मौसम में सबसे खराब वायु गुणवत्ता रही जिसकी वजह से प्रशासन को जन स्वास्थ्य आपातकाल की घोषणा करनी पड़ी लेकिन शनिवार को हवा की गति बढ़ने से वायु गुणवत्ता सूचकांक में आंशिक सुधार देखा गया. सीपीसीबी बुलेटिन के मुताबिक 18 शहरों में वायु गुणवत्ता सूचकांक 300 से 400 के बीच रहा जो ‘बहुत खराब’ की श्रेणी में आता है. इनमें 11 शहर हरियाणा और तीन उत्तर प्रदेश के हैं. दो शहर पंजाब के और एक-एक शहर बिहार एवं मध्यप्रदेश के हैं.