जिलाधिकारी विशाख जी. ने बुधवार को शहर की समस्याओं के समाधान के लिए कई अहम फैसले लिए हैं।उन्होंने बताया कि सड़कों की बार बार होने वाली खुदाई पर अंकुश लगाएंगे. खुदाई की अनुमति देने की एकल व्यवस्था बनाई जाएगी। साथ ही खोदी गई सड़क को बनाने की समय सीमा भी तय की जाएगी। देरी होने पर पेनाल्टी भी लगाई जाएगी। जो विभाग खुदाई कर रहा है, उसके काम का समय के हिसाब से औचित्य भी देखा जाएगा।

उन्होंने बताया कि उनका ट्रैफिक, सड़क, स्वास्थ्य और शिक्षा पर फोकस ज्यादा है। अस्पतालों में डॉक्टर और स्टाफ की उपस्थिति अनिवार्य रूप से हो, इसकी लगातार मानीटरिंग की व्यवस्था शुरू की गई है। इसमें शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में विभागों की जिम्मेदारी भी तय की जा रही है। सामाजिक संस्थाओं का भी सहयोग लिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि ट्रैफिक खामियों को दूर करने के लिए शहर में 590 कैमरे लगाए गए हैं। हर चौराहे पर लाइट का समय निर्धारित करने पर भी काम किया जा रहा है।

 

@TODAYINDIALIVENEWS