11वीं क्लास में पढ़ने वाली एक नाबालिग छात्रा ने अपने पिता पर बलात्कार करने के साथ-साथ सपा और बसपा जिलाध्यक्षों सहित 28 लोगों द्वारा भी बलात्कार करने गम्भीर आरोप लगाया है. आरोपी पिता, सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव, बसपा जिलाध्यक्ष दीपक अहिरवार सहित सभी 28 आरोपियों के खिलाफ बलात्कार सहित अन्य सुसंगत धाराओं में मुकद्दमा दर्ज कर आगे की कार्यवाही शुरू कर दी है.

क्या है पूरा मामला?

नाबालिग छात्रा की शिकायत के अनुसार, जब वह 6वीं क्लास में पढ़ती थी तभी उसके पिता अपने अन्य दोस्तों से भी बलात्कार जैसी घटना को अंजाम दिलाने लगे, जिनमें सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव और बसपा जिलाध्यक्ष दीपक अहिरवार भी शामिल है.  इसका विरोध करने पर उसे और उसकी मां के साथ मारपीट कर जान से मारने की भी धमकी दी गई, जिसके खौफ की वजह से वो शांत रहे और उसके साथ सालों तक यह चलता रहा पीड़ित छात्रा और उसकी मां ने जब इस मामले की शिकायत पुलिस अधीक्षक से की तो उन्होंने मामले की गंभीरता को देखते हुए कार्रवाई के आदेश दिए.

सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव ने दी सफाई

रेप का आरोप लगने पर सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव ने कहा कि मैं आजतक आरोप लगाने वाली छात्रा से मिला भी नहीं हूं. तिलक यादव का कहना है कि उनको और उनके परिवार को बर्बाद करने की साजिश रची जा रही है. उन्होंने मामले की निष्पक्ष जांच करवाने की मांग की. साथ ही कहा कि कि अगर झूठा फंसाया जाता है तो वह बीच चौराहे पर आत्महत्त्या कर लेंगे.

 

@TODAYINDIALIVENEWS