प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज (मंगलवार) यानी 10 अगस्त 2021 को उत्तर प्रदेश के महोबा से उज्ज्वला योजना 2.0 की शुरुआत कर दी है. उज्ज्वला योजना 2.0 की शुरुआत कर दी है. उज्ज्वला योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों की महिला को फ्री गैस कनेक्शन दिया जाता है.

उज्ज्वला योजना 2.0 के लाभ के लिए इन डॉक्यूमेंट्स की जरूरत
> उज्ज्वला कनेक्शन के लिए eKYC होना अनिवार्य है.
> आवेदक का आधार कार्ड, पहचान के प्रमाण के करेगा.
> किसी भी राज्य सरकार द्वारा जारी किया गया गरीबी रेखा से नीचे का राशन कार्ड.
> क्र.सं. में दस्तावेज में दिखाई देने वाले लाभार्थी और परिवार के वयस्क सदस्यों का आधार.
> बैंक खाता नंबर और IFSC कोड

उज्ज्वला योजना क्या है?
प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत सरकार गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों के लिए घरेलू रसोई गैस यानी एलपीजी कनेक्शन मुहैया करती है. पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के सहयोग से यह योजना चलाई जा रही है. इससे लाभार्थियों को एक फायदा ये होगा कि नौकरी बदलने या किराए का घर बदलने की वजह से गैस कनेक्शन लेने में कोई दिक्कत नहीं होगी.

कौन ले सकता है उज्ज्वला योजना का लाभ?
> उज्ज्वला योजना का लाभ सिर्फ महिलाएं ले सकती हैं.
> किसी भी श्रेणी में गरीब परिवार के तहत सूचीबद्ध होना जरूरी.
> आवेदक महिला की आयु कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए.
> एक ही घर में इस योजना के तहत कोई अन्य एलपीजी कनेक्शन नहीं होना चाहिए.

Ujjwala 2.0 Connection: कैसे करें आवेदन?

अपनी सुविधा के अनुसार किसी एक विकल्प को चुनकर और नए कनेक्शन के लिए मांगी गई जानकारी भरकर सबमिट करें.

डॉक्यूमेंट वेरिफाई होने के बाद आपको एलपीजी गैस कनेक्शन सरकार की ओर से उपलब्ध करा दिया जाएगा.

इसके अलावा आप चाहे तो फॉर्म डाउनलोड करके उसे भरकर नजदीकी गैस एजेंसी डीलर के पास जमा भी कर सकते हैं.

 

@TODAYINDIALIVENEWS